राजस्‍थान NRHM लेखाकार यूनियन आपका हार्दिक स्‍वागत करती है।

 राजस्‍थान NRHM लेखाकार यूनियन आपका हार्दिक स्‍वागत करती है।


 

   " हो सकता है कि मैं आपके विचारों से सहमत न हो पाउं फिर भी विचार प्रकट करने के आपके अधिकारों की रक्षा करूगां। - वाल्‍तेयर  

 


  " इस वेबसाईट का प्रकाशन एक व्‍यवस्‍था के कुचक्र में फंसे तथा एक ही हित रखने वाल व्‍यक्‍तियों के विचारों के आदान-प्रदान एंव संदेश वाहक के रूप में किया जा रहा है अतः इस वेबसाट में प्रकाशित किसी भी तथ्‍य का उदे्श्‍य किसी व्‍यक्ति, समाज, धर्म, वर्ग आदि को ठेस पहुचाना नहीं है । "


 वेबसाइट निरिक्षणकर्ताओं की संख्‍या :-                                  



Dated - 03-02-2016 (News -1)

 

**Meeting @ JAIPUR** 08-02-2016 Time – 7.00 Am.

 

सभी साथी ध्यान दे एकीकृत महासंघ के प्रदेश उपाध्यक्ष भाई भँवर जी पुरोहित से कल हुई वार्ता के अनुसार आने वाली 8 फरवरी 2016 को

जयपुर मैं श्रीमान राजेंदर राठोड़ जी से उनके बंगले पर मुलाकात की जायेगी जिसमे सभी साथी अपने लिए संगठन का साथ देवें और ज्यादा से

ज्यादा संख्या में 8 फरवरी को जयपुर पहुँचे.
.
25 जनवरी,16 को cm साहिबा से हुई मुलाकात का कारन वहाँ पर अपनी संख्या बल ही था तो सभी साथी 8 फरवरी को जयपुर आने के लिए

तैयार रहे

 

मीटिंग --Timeing -7.00 Am. श्री राजेन्द्र राठौर जी बंगले पर

 

और फिर 10.00 AM. सवास्थ्य भवन के बाहर वाले गार्डन में.

 

Contact – किशोर जी व्यास - 99282-76866 , Sunil G Sen – 9828375077,


Pradeep G- 9460240542, Shahbaz Khan – 9602410354 
.
Keep Touch on website -

 


Dated - 26-01-2016  (News.1)

जिन - जिन साथियों ने बीकानेर में ज्ञापन दिया उनको बहुत - बहुत धन्यवाद और जो नहीं आ पाए तो अगली बार बुलाने पर जरुर आये.


Dated - 24-01-2016  (News.1)

दोस्तों डाटा एंट्री ऑपरेटर , लेखाकार ,आशा सुपरवाइजर खासकर बीकानेर और बीकानेर के आस - पास के सविदा कार्मिको से निवेदन है आज प्रदेश सचिव किशोर जी व्यास के नेत्र्तव में Cm साहिबा के नाम से ज्ञापन दिया जायेगा ...............

-

और 25 और 26 जनवरी,16 को Cm साहिबा से पर्सनल मिलकर , अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी सयुक्त महासंघ के बेनर तले ज्ञापन दिया जायेगा...

-

एसा मोका दुबारा नहीं मिलेगा.....इसलिए समस्त राजस्थान के सविदा कार्मिक आप 25 जनवरी,16 को बीकानेर भारी संख्या में पहुचे .....थैंक्स

कांटेक्ट - किशोर जी व्यास - 99282-76866 

Nrhm/Mmjrk Deo Website-  www.craunion.hpage.com

 


Dated- 02-01-2016_News-1.

>>A.N.M Merit List Vishleshan

N.R.H.M. Accountant, Deo. C.o, Asha Superivsor bhaiyo ko union ke tarraf se Naye saal ki Subkamanye

Jaisa ki bhayio apko vidit hai ki sarkar ne 15 bonus anko par 5533 post par merrit list evam padstapan suchi jari kar di hai, jisme kuch sanvida anm sathi jo vigat 8 se 12 varsho tak savidha ki naukri kar rahi thi , niyamit nuki se vanchit ho gaye hai, agar ap anm merrit suchi ko mote-2 tor par dekho to                            

(1) general candiadate jiske maixmum( 67% or lowest 52%)  candidate jo ki bahut kam hai ka selection hua hai, or General Candidate jiske 51 se kam hai usko OBC, Sc St ke jiske Graduation me 51% hai Sidhe bhar kar raha hai, Percentage ap anm Course + 10 th class ka average Jo sarkar ke dwara bonus 15 jodne se phele diaya hai us ko dekhe, jabki hamari anm sathyo ne 10 or anm course 10 saal phele kar lia hoga jo ki nrhm me hai or jitne vo lag rahi hai usse 3 se 4 guna pado me badotri ke badh ye vacancy nikli hai, or anm course har koi nahi karta hai, jabki Graduation har koi kar raha hai ( BA.B.Com, B.Sc, BBA Etc) to Vartmaan me unki kitni higher percentage ja rahi hogi, jabki aj se 10 saal phele 10 th me logo ki higest 67 % Hai.

 

(2)  Obc me jis candidate ke Lowest 50% or maximum 55% Hai Usko Side tor Par SC,St TSP Candidate bahar ka rasta dikha rahe hai, or OBC me bhi aj se 10-12 saal phele jin logo ne BA. B.com or BSc Kar akhi hai unke mushkil se jo sanvidha me karrayt hai 40% se 50 % ratio ke log jayada hai or obc me ab current years me 60 to 85 % wale graduate persons Lakh ke akde ki tadad me mil jayege. 

(3) isi tarah sc or st reserve categeory me st wale logo ne sc wale logo ko bahar ka rasta dikahay hai....

-

To Bhaio Anm merrit list apke samne hai, iska niskarsh apne ap nikal le , hamare jayada se jayade accountant , deo, c.o, supervisor bhaio ka 15% bonus anko se bharti par Out ho jaye ge, or unke or unke pariwar walo ke samne roji roti ka sankat ho jayega.

 





isliye ish Cader ke Jaichando or meer kasim type ke logo se savdhan rahe, vo apka heeth nahi apke or apke pariwar ke aheet soch rahe hai, or apna or apne pariwaar ka heeth soch rahe hai, sabse jayda nuksaan General or OBC Categiri wale logo ko hai, Union Ke sath rahe or 30% Bonus Anko or Anya vikalp par Ek Sath Union ke Kahe anusaar chale, Union Chati hai ki sabhi ka selection ho , hamara koi bhi bhai bahar nahi ho, Kuch Jaichand or Meer Kasim Apko yehe Khete hue nazar ayege ki hum out ho jaye to ho jaye or sabhi ka selection hoga, koi bhi bahar nahi hoga. Unse savdhan rahe, Yehe jaichand or meer kasim kudh ke swarth ki khatir 15% bharti karwana chate hai, agar in jaise logo ko desh ka PM or State ka CM Bana diya jaye to yehe kamjor varg ke logo ke pariwar walo ko bhi bech khaye ,    
11/01/2016 ko Union ki Taraf se Jaipur me kisi bhi meeting ka Ayojan Nahi Rakha Gaya hai, Agami Meeting Jaldi Hi PPI Programme 18/1/2016 ke Badh Rakhi jayegi or Ranniti se Jaichando or meer Kasimo ko Chor Kar Sabhi Ko Awgat Kara Diya Jayega.

Acct. Deo. Co. Supervisor Ke Hitarhth
Sunil Kumar sen Ki Kalam Se

9828375077

 

 NRHM Cader ke Accountant, data entery operater, computer Operater , Asha Supervisor Bhaiyo ko deepawali or Bhai Dij Parv ki Sabhi Union members ki taraf se Agrim Hardik Shubh Kamnaye!

From

Sunil Kumar Sen, Kishore Vyas, Pradeep Sharma, Pappu Choudhary,(Deo) Ashish Sharma (Jhunjunu),Mansingh meenaI (A.S), Shabaj Khan Pathan(MMJRK C.O)

 

 

      Gyapan to Chief minister Rajasthan through Collecter

Priya Bhaiyo Dated 15/04/2015 & 16/04/2015 ko Sabhi Dist. se C. M ke nam jariya jila collecter ko gyapan deve, thaki Management cader ki bhartiya bhi ho sake, Gyapan sabhi dist level par sangarsath bhaiyo ki personal email id par bheje ja chuke hai, kuch karanwansh website par gyapan download nahi kiya gaya hai. Ap CRA Union Ki WEb Me Bharti option par jakar gyapan download kar leve or collecter ko jarur deve

Dated 28/3/2015 or 06/4/2015 ko mamagemnet union ki taraf se Sunil kumar sain, pappu choudhary, pradeep sharma, shabaj khan or bhai log health minister se mile tthe, parantu health minister sahab ke dwara koi responce nahi diya gaya, or sabhi jilo me mr sunil kumar sen, pradeep sharma, pappu choudhary, shabaj khan dwara personal phone par sabhi jilo ke sangarsth karyakarni members ko suchit kiya gaya tha paranthu uske bad bhi healt minister ke samne matra 39 log hi the, yeh bade afsos i bat hai or additional director sahab ke dawara purv me kuch datas ke liye bola gaya tha paranthu aj tak bhi ek matra bhilwara jile ko chor kar kise bhi jile se data nahi bheje gaye hai, yeh bade sharam ki bat hai ki hum logo ko hamare rojagar ki hi chinta nahi hai,

                                                                                                         dusri taraf kuch hamare supervisor bhai health minister se 80 se 120 ki sankhya me pichle 28/3/2015 se mil rahe hai or 05/10/15 se process start karne ke liye pressure kar rahe hai, jabki abhi haaal hi me apke samne gnm or anm ki list jri hoe ke bad  1300 karmik ( nrhm gnm or rch  me year 2003 se karyat anm ) niyamit naukri pane se vanchit ho gaye hai, bhaiyo in logo ne bhi niyamitkaran ke liye sangarsh kiya tha yedi inki dusri list nahi athi or athi hai to bhi 111 gnm jo ki lower percentgae ke hai unka chayan tab bhi nahi hoga,  hamare kuch ( 80-120) supervisor bhai jo ki  5/10/15 se management cader ki bharti karwana chate hai gnm union ki tarah par kya goverment supervisor cader ke poore pado par bharti karegi, or agar karti bhi hai to jo 900 me se 700 supervisor bhai niyamit naukri se vanchit ho jayege unko supervisor cader ke 80-120 log pure jivan bhar apni pocket se parvivar ke palan ke liye 1/2 hissa dege , bhaio nahi denge, ku ki yeh 80-120 log apne swarth ke karan 05/10/15 se bharti chathe hai, isliye me anaya supervisor bhaio se niveden karna chauga ki inke bhekave me na aye.

                                                                    mere sirf ek hi udshya hai ki nrhm me karyat managemnet cader ke sabhi bhai logo ka chaye vo 36% wala ho or chaye 100% wala ho , chaye usne nrhm sanvidha par 1 din kam kiya ho chaye vartman me karyart hai, chaye vo 18 saal k ho chaye vo 45 saal ka ho saabhi ko permanent niuakti milni chaye.

 Iske liye union Samaojan or vigapit bharti me 20/12.5 interview ka pravdhan karwana chah rahi hai taki management cader ka koi bhi bhai bhar na ho jo pichle 7 8 years se govt ko apni seva de raha hai or apl vetan par kam kar raha hai,

 

Jai bhole nath, har har mahadev

 Sunil Kumar Sen ( 9828375077)  

 

 

DATE:09.11.2014 Mondya and Tuesday ko Shrignaganagar walo ke samarthan me State ke Sabhi Accountant ki aur se 2 Dino Ka samukhi Avkash lene ka nirnaya liya gaya hai So Reqest to all District Sabhi Don Din 09.11.2014 and 10.11.2014 ko Samukhik Avkash Lenge.

DATE: 08.11.2014 TECHNICAL ERROR HONE SE GYAPAN DOWNLOAD NAHO HO RAHA HAI SO REQEST TO ALL FACE BOOK PE NRHM ACCOUNTANT RAJASTHAN PAGE SEARCH KAR KE DOWNLOAD KARE.

भारत माता मन्दिर, हरिद्वार

 

भारत को मातृदेवी के रूप में चित्रित करके भारतमाता या भारतम्बा कहा जाता है। भारतमाता को प्राय: केसरिया या नारंगी रंग की साड़ी पहने, हाथ में भगवा ध्‍वज लिये हुए चित्रित किया जाता है तथा साथ में सिंह होता है। भारत में भारतमाता के बहुत से मन्दिर हैं। काशी का भारतमाता मन्दिर  अत्यन्त प्रसिद्ध है जिसका उद्घाटन सन् १९३६ में स्वयं महात्‍मा गांधी ने किया था। हरिद्वार  का भारतमाता मन्दिर भी बहुत प्रसिद्ध है।


देवाधिदेव, आदिदेव, महादेव के त्रिशुल पर स्थित काशी को मन्दिरों का नगर होने का गौरव प्राप्त है। यहां देवी-देवताओं के अनेक मन्दिर हैं। इन मन्दिरों के बीच इस प्राचीन महानगर में एक ऐसा भी अद्वितीय मन्दिर है, जिसमें किसी देवी-देवता की प्रतिमा की जगह राष्ट्र का भौगोलिकीय लघु प्रतिरूप मूर्तिमान रूप में विराजित है। ‘भारतमाता मन्दिर‘ के नाम से चर्चित ‘राष्ट्रदेवता‘ का यह मन्दिर आजादी के योद्धाओं के लिए चर्चित विश्वविद्यालय '' महात्‍मा गांधी  काशी विद्यापीठ '' के परिसर में चित्रकला विभाग के समीप स्थित है।

इस मन्दिर के संस्थापक काशी के चर्चित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं काशी विद्यापीठ के संस्थापक स्व. बाबू शिवप्रसाद गुप्‍त थे। इस मन्दिर की स्थापना के विषय में बाबू शिवप्रसाद गुप्त ने एक विज्ञप्ति उस समय जारी की थी, जिसमें लिखा है, इसका निर्माण कार्य सम्वत्‌ १९७५ तद्नुसार वर्ष (१९१८ ई.) में प्रारंभ हुआ और ५-६ वर्ष में पूरा भी हो गया। यहां स्थापित भारतमाता की मूर्ति का शिलान्यास २ अप्रैल, १९२३ को श्री भगवानदास के करकमलों से हुआ था।"

सतह या भूतल पर सफेद और काले संगमरमर  पत्थरों से बनी सम्पूर्ण भारतवर्ष की भौगोलिक स्थिति को दर्शाती मां भारती की यह मूर्ति, पवित्र भारतभूमि की सम्पूर्ण भौगोलिक स्थितियों को आनुपातिक रूप में प्रकट करती है। पूरब से पश्चिम ३२ फुट २ इंच तथा उत्तर से दक्षिण ३० फुट २ इंच के पटल पर बनी मां भारती की इस प्रतिमूर्ति के रूप के लिए ७६२ चौकोर ग्यारह इंच वर्ग के मकराने के सफेद और काले संगमरमर के घनाकार टुकड़ों को जोड़कर भारत महादेश के इस भूगोलीय आकार को मूर्तिरूप प्रदान किया गया है। मां भारती की इस पटलीय मूर्ति के माध्यम से भारत राष्ट्र को पूर्व से पश्चिम तक २३९३ मील तथा उत्तर से दक्षिण तक २३१६ मील के चौकोर भूखण्ड पर फैला दिखाया गया है। इस मूर्ति पटल में हिमालय सहित जिन ४५० पर्वत चोटियों को दिखाया गया है उनकी ऊंचाई पैमाने के अनुसार १ इंच से २००० फीट की ऊंचाई को दर्शाती है। इस में छोटी-बड़ी आठ सौ नदियों को उनके उद्गम स्थल से लेकर अन्तिम छोर तक दिखाया गया है।

इस मूर्ति पटल पर भारत के लगभग समस्त प्रमुख पर्वत, पहाड़ियों, झीलों, नहरों और प्रान्तों के नामों को अंकित किया गया है। लगभग ४५०० वर्ग फुट क्षेत्र में तीन फीट ऊंचे एक विशाल चबूतरे पर यह मन्दिर बना है। भारत माता के इस मन्दिर के मध्य भाग में स्थापित भारत के विभिन्न भौगोलिक उपादानों के रूप में पर्वत, पठार, नदी और समुद्र के सजीव निर्माण के लिए संगमरमर के पत्थरों को जिस कलात्मक ढंग से तराश कर भारत के भौगोलिक भू-परिवेश का यथार्थ प्रतिरूपांकन किया गया है, वह भारत में पत्थर पर कलाकृति निर्माण कार्य में प्राचीन काल से चली आ रही कला और तकनीकी पक्ष को उजागर करती है। वास्तव में राष्ट्रभाव की अनुप्रेरक मां भारती के इस मन्दिर के निर्माण में कला, शिल्प और तकनीकी ज्ञान का उत्कृष्ट समन्वय हुआ है।


भारत माता जी की आरती :-

आरती भारत माता की
आरती भारत माता की, जगत की भाग्यविधाता की॥धृ॥
मुकुटसम हिमगिरिवर सोहे,
चरण को रत्नाकर धोए,...

देवता कण-कण में छाये
वेद के छंद, ग्यान के कंद, करे आनंद,
सस्यश्यामल ऋषिजननीकी॥1॥ जगत की...........

जगत से यह लगती न्यारी,
बनी है इसकी छवि प्यारी,
कि दुनिया झूम उठे सारी,
देखकर झलक, झुकी है पलक, बढ़ी है ललक,
कृपा बरसे जहाँ दाता की॥2॥ जगत की...........

पले जहाँ रघुकुल भूषण राम,
बजाये बंसी जहाँ घनश्याम,
जहाँ पग-पग पर तीरथ धाम,
अनेको पंथ, सहस्त्रों संत, विविध सद्ग्रंथ
सगुण-साकार जगन्माँकी॥3॥ जगत की...........

गोद गंगा-जमुना लहरे,
भगवा फहर-फहर फहरे,
तिरंगा लहर-लहर लहरे,
लगे हैं घाव बहुत गहरे,
हुए हैं खण्ड, करेंगे अखण्ड, यत्न कर चण्ड
सर्वमंगल-वत्सल माँ की॥4।। जगत की...........

बढ़ाया संतों ने सम्मान,
किया वीरों ने जीवनदान,
हिंदुत्व में निहित है प्राण,
चलेंगे साथ, हाथ में हाथ, उठाकर माथ,
शपथ गीता - गौमाता की॥5॥ जगत की...........



सबसे प्यारी भारत माता, इसका झंडा ऊँचा लहराता।
यह देश सबका राज दुलारा, प्राणों से भी हमको प्यारा।।

बड़ी मुशकिल से मिली आजादी, अग्रेजो से छुटी गुलामी।
इसी मिट्टी में जन्मा हूँ मैं, इसी मिट्टी में रम जाऊँगा।।

मेरे देश में अनेकता में एकता, सब दिशा में प्यार झलकता।
सब धर्मों के लोग यहाँ, बस जाते हैं यहाँ वहाँ।।

सबसे प्यारी भारत माता, इसका झंडा ऊँचा रहे लहराता।।



 तेरे नयनों में भर आये नीर तो, लहू मैं बहा दूं माँ|

न्योच्छार तुझपे जीवन करूँ, क्या जिस्म क्या है जाँ ||

 तू धीर गंभीर हिमाला को, मस्तक पे धारण करे |

तू चंचल गंगा जमुना का, प्रतिक्षण वरण करे ||

विविध भी एक हैं , देख ले चाहे जहां |

 जब उठा के लगा दें, हम मस्तक पे धूल ||

बसंत है चारों तरफ, खिले मुस्कान के फूल |

नफरत भी बन जाती है, प्रेम का समाँ ||

 तेरे बेटों की ओ माँ, बस यही है आरजू |

माटी को महकाने की, करें हर पल जुस्तजू ||

प्रेम की बरसात करें, अगर नफ़रत का उठे धुंआ ||


भारत माता के महान् सपूत :-


 

 

 

Please update your comment in Guest Book

go to top